Bewafa SMS


कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार
गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार
गयी..

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर
होता है!

Bewafa hai duniya kisi ka aitbaar na karo,
har pal dete hai dhokha kisi se pyaar na karo,
mit jaao tanha jee kar,
par kisi ke saath ka intezaar na karo.

Copyright © Paramount Infosystem pvt ltd. All rights reserved